X Close
X

दोबारा यूज न करें कढ़ाई में बचा तेल, कैंसर समेत हो सकती हैं ये बीमारी


38547-3905bc91-74dd
Jaipur:

नई दिल्ली. तेल रसाई की सबसे जरुरी चीजों में से एक हैं। हालांकि यदि आप अपनी डाइट को लेकर संजीदा हैं तो ज्‍यादा ऑयली फूड आपके लिए हानिकारक हो सकता है। हालांकि,  इससे भी ज्यादा खतरनाक बचे हुए तेल को फिर से इस्तेमाल करना। तेल का दोबारा इस्तेमाल कुछ मुक्त कणों का निर्माण करता है। ये आगे चलकर कैंसर जैसी जानलेवा बीमारियों का भी कारण बन सकते हैं। 

पैदा करता है बीमारियां
न्यूट्रिशनिस्ट के मुताबिक बचे हुए तेल के ये मुक्त कण स्वस्थ कोशिकाओं से जुड़ जाते हैं और बीमारियां पैदा करते हैं। ये मुक्त कण कैंसर पैदा करने वाले हो सकते हैं। इतना ही नहीं इन कणों के कारण कैंसर हो सकता है। साथ ही धमनियों में गंदे कोलेस्ट्रोल का स्तर बढ़ सकता है। ऐसा होने से धमनियों में रूकावट आ सकती है। तेल जितनी बार गर्म होने के बाद उबलता है, उतनी बार उसमें कैंसर के कारक बनते हैं। 

पेट का कैंसर होने की सम्‍भावना 
तेल को बार-बार उबालने से उसमें कैंसर उत्पन्न करने वाले तत्व आ जाते हैं। जिस वजह से शरीर में गॉल ब्लैडर या पेट का कैंसर होने का खतरा पैदा हो जाता है। जैसा कि ऊपर बताया है कि जब अधिक देर तक कैंसर के कारक उस तेल में रह जाते हैं तो वह बढ़ते जाते हैं। अगली बार फिर से उबालने पर इनकी शक्ति और भी बढ़ जाती है। इसका प्रमुख कारण विशेषज्ञों ने बताया कि बार-बार तेल गर्म करने उसके मुख्य कारक नष्ट हो जाते हैं।

बढ़ाता है कोलेस्ट्रोल
कड़ाही के तले में फैट जमने से कड़ाही का तला काला हो जाता है। यह फैट खाने में चिपक कर स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचा सकता है। इस तरह के खाने से शरीर में कॉलेस्ट्रोल की मात्रा बढ़ती है। जिस वजह से आपका मोटापा भी बढ़ सकता है। साथ ही कई और परेशानियां जैसे एसिडिटी और दिल की बीमारी भी हो सकती है। 

Aaj Ka Leader